News4Bharatउत्तर प्रदेशनेशनलराजनीतिराज्य

अयोध्य विवाद मामले में सुप्रीम ने कोर्ट पूछा सवाल, क्या देवता के जन्मस्थान को भी कानूनी तौर पर व्यक्ति मान सकते हैं..?

अयोध्या विवाद मामले में सुप्रीम कोर्ट ने ‘राम लला विराजमान’ के वकील के. परासरन से सवाल पूछा है. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि किसी देवता के जन्म स्थान को कानून की दृष्टि से कैसे ‘व्यक्ति’ माना जा सकता है. कोर्ट ने कहा कि जहां तक हिंदू देवताओं की बात है तो उन्हें कानून की दृष्टि से व्यक्ति माना गया है, जो संपत्ति और संस्थाओं के मालिक हो सकते हैं और मुकदमा भी कर सकते हैं.

लेकिन क्या उनके जन्म स्थान को भी कानूनी तौर पर व्यक्ति माना जा सकता है. इसके जवाब में वकील परासरन ने कहा, ‘हिन्दू धर्म में किसी स्थान पर, उपासना के लिए वहां मूर्तियों का होना जरूरी नहीं है. हिन्दूवाद में तो नदी और सूर्य की भी पूजा होती है और जन्म स्थान को भी कानूनी व्यक्ति माना जा सकता है. ‘ अयोध्या मामले में देवता की ओर से दायर वाद में भगवान राम के जन्म स्थान को भी एक पक्षकार बनाया गया है.

Show More

Related Articles

Close