News4Bharatक्राइमबिहारराजनीतिस्पेशल

सरकार ने पूर्णिया नगर नगर मामले में माँगा रिपोर्ट, नगर आयुक्त ने जारी किया पत्र

मेयर और  उपमेयर ने पूर्णिया नगर निगम में चल रहे विवाद को लेकर जिलाधिकारी को उद्देश्य पत्र सौंपा है। जिलाधिकारी ने नगर आयुक्त को मामले की जांच का आदेश दिया है। बताते चलें की पूर्णियां नगर निगम का मामला अब तूल पकड़ता जा रहा है. बिहार सरकार ने भी इस मामले में संज्ञान लिया है। गौरतलब है कि मेयर पति के द्वारा पार्षद के साथ किये गये बुरे बर्ताव  की गूंज अब दूर तक पहुंच चुकी है।इस मामले के संबंध में मेयर सविता सिंह ने  डीएम प्रदीप कुमार झा को पूर्व में एक आवेदन सौंपा है। इसमें उपमेयर विभा कुमारी पर कई गंभीर आरोप भी लगाया है।

नगर निगम पूर्णिया के प्रधान सहायक कक्ष में वार्ड नंबर 7 के पार्षद रमेश पासवान के साथ किए गए अभद्र व्यवहार से संबंधित शिकायत के आधार पर डीएम के पत्रांक संख्या 36 45 के माध्यम से नगर विकास आवास विभाग, बिहार सरकार ने ई-मेल के जरिए वस्तुस्थिति की जानकारी मांगी है।इसको देखते हुए पूर्णिया नगर निगम के आयुक्त ने एक पत्र जारी करते हुए आदेश दिया है कि निगम की बैठक या निगम कार्यालय में कोई भी अनधिकृत व्यक्ति नहीं जाएगा। चाहे वह मेयर पति हो या डिप्टी मेयर के पति या फिर वार्ड पार्षद के ही पति क्यों न हो।

इस पत्र की कॉपी  निगम के मेयर, उपमेयर सहित सभी पार्षदों को प्रेषित कर इससे अवगत करा दिया गया है।आपको बता दें कि निगम में कुल 46 वार्ड पार्षद हैं और इसमें एक तिहाई से ज्यादा महिला पार्षद हैं और इन पार्षदों का काम इनके पति ही करते हैं। इसको लेकर निगम में उनका आना जाना लगा रहता है। ऐसे में पार्षदों के पति इसका कितना अनुपालन करते हैं यह भी देखना दिलचस्प होगा।

Show More

Related Articles

Close