News4Bharatउपकरणऑटोमोबाइलकंप्यूटरटेक्नोलॉजीपटनाबिज़नेसबिहारमोबाइलराज्य

BIHAR में LOCKDOWN के बीच नीतीश सरकार का बड़ा फैसला, राज्य में खुलेंगी दुकानें

Lnबिहार समेत पूरे देश में कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए लॉकडाउन का तीसरा चरण चल रहा है. हालांकि लाॉकडाउन के तीसरे चरण में पूरे देश में कई तरह की छूट भी दी गई है. इसी क्रम में अब बिहार सरकार ने भी लॉकडाउन की सख्ती में थोड़ा ढ़ील देने का फैसला लिया है.

बिहार सरकार ने कई तरह की दुकानों और संस्थानों को खोलने की अनुमति दे दी है. बिहार सरकार के गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव आमिर सुबहानी ने इस बाबत एक पत्र जारी कर निर्देश दे दिया है. दुकानों के खोलने में सोशल डिस्टेंसिंग का पूर्णतः पालन किया जाना जरुरी होगा, साथ ही अन्य शर्तों का भी पालन किया जाएगा.

राज्य में इलेक्ट्रिक अप्लायंस से जुड़ी दुकानों को खोलने की परमिशन दे दी गई है. पंखा, कुलर, एसी की बिक्री और मरम्मती की दुकानों को खोला जा सकता है. इसके अलावा सरकार ने इलेक्ट्रॉनिक गुड्स यानि मोबाइल. कंप्यूटर, यूपीएस और बैट्री की दुकानों को भी खोलने की मंज़ूरी दे दी है. ऑटोमोबाइल. टायर, मोटर गैरेज, कार, बाइक मरम्मती की दुकानों को खोलने की अनुमति भी दे दी गई है.

वहीं बिहार में निर्माण सामग्री के भंडारण और बिक्री के संस्थानों को भी खोलने की इजाज़त दी गई है. इनमें सीमेंट, छड़, गिट्टी, बालू, ईंट, प्लास्टिक पाइप, हार्डवेयर, पेंट आदि की दुकानें शामिल हैं. हालांकि इसमें राज्य सरकार ने कई शर्त भी लगाएं हैं. ऑटोमोबाइल, स्पेयर पार्ट्स की दुकानें एक-एक दिन के अंतराल पर खोली जाएंगीं, वहीं गैरेज और वर्कशॉप रोज़ खोला जा सकेगा.

इसके अलावा HSNP यानि हाई सेक्यूरिटी नंबर प्लेट की दुकान अनुमंडल स्तर पर एक और ज़िला स्तर पर दो खोली जाएंगी . वहीं प्रदूषण जांच केंद्र भी खोले जाएंगे.

हालांकि राज्य सरकार ने सभी ज़िलाधिकारियों को ये अधिकार दिया है कि वे भीड़ को कम करने के लिए दुकानों के खुलने का समय तय कर सकते हैं. दुकानों को खोलने के लिए अलग-अलग दिन भी निर्धारित किए जा सकते हैं. सरकार ने सभी ज़िलाधिकारी को इस संबंध में नियम तय करने और आदेश जारी करने को कहा है.

Show More

Related Articles

Close