News4Bharatनेशनलराजनीतिस्पेशल

मुस्लिम महिलाओं ने पीएम मोदी को भेजी हाथ से बनी राखी

वाराणसी:  तीन तलाक के खिलाफ कानून बनने से खुश महिलाओं ने पीएम मोदी और क्षेत्रीय सांसद को अपने हाथ से बनी राखी भेजी। इस बात को लेकर मौलाना मुस्लिम महिलाओं से नाराज़ हो गये है। कुछ मुस्लिम मौलानाओं ने इस नेक काम को सराहा है तो कुछ लोग इसे सस्ते प्रचार का तरीका बता रहे है। बता दें राखी बनाने वाली मुस्लिम महिलाओं का कहना है कि “जिस तरह प्रधानमंत्री मोदी ने तीन तलाक जैसी कुप्रथा को खत्म करवाया, ऐसा काम केवल एक भाई ही कर सकता है और इस भाई के लिए हम बहनें अपने हाथों से  राखी बनाकर भेज रही हैं”।

वहीँ राखी के ऊपर प्रधानमंत्री की फोटो भी लगाई गई है। महिलाओं ने कहा, “मोदीजी ने हमारी दयनीय हालत को खत्म किया है। आगे भी आने वाली महिलाएं तीन तलाक से बच सकती हैं। वहीं राखी बनाने वाली रामापुरा की हुमा बानो ने कहा, ” तीन तलाक जैसी कुरीति को मोदी ने खत्म किया है। बता दें नरेंद्र मोदी देश के प्रधानमंत्री और वाराणसी के सांसद होने के साथ ही साथ अब देश की सभी मुस्लिम महिलाओं के बड़े भाई बन गए हैं।

हुमा बानो ने तीन तलाक को लेकर खौफ के सवाल पर कहा,  तीन तलाक का खौफ अब हमारे मन से कम हो गया है।  उन्होंने कहा, “राखी एक पवित्र रिश्ता बनाती है, चाहे हिंदू हो या मुस्लिम”। भाई-बहन का यह रिश्ता अनोखा होता है। महिला ने कहा मोदी ने हमारे दर्द को समझा है। तीन तलाक से मुक्ति दिलाई है। हमें ही नहीं बल्कि पूरे देश की मुस्लिम महिलाओं को उन्हें राखी भेजनी चाहिए। यह एक प्रेम से भरा रिश्ता है। हमारे इस वक्त में मोदी जी ने हमारा साथ दिया है और इससे बड़ा उपहार हमारे लिए कुछ और हो ही नहीं सकता है।

 

 

Show More

Related Articles

Close