News4Bharatझारखण्डपटनाबिहारराजनीतिराज्य

जीतन राम मांझी ने लिया फिर यू-टर्न, ओवैसी के साथ मंच नहीं करेंगे साझा हम के सुप्रीमो

हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा के सुप्रीमो जीतन राम मांझी ने एक बार फिर यू-टर्न ले लिया है .जीतन राम मांझी ने यह ऐलान कर दिया है कि वो ओवैसी के साथ मंच साझा नहीं करेंगे.कल तक मांझी हवा बना रहे थे कि वो 29 दिंसबर को किशनगंज में ओवैसी के साथ मिलकर नागरिकता कानून के खिलाफ सभा करेंगे, लेकिन 24 घंटे में ही मांझी ने यू-टर्न ले लिया है. मांझी ने कहा है अब वो 29 दिसंबर को हेमंत सोरेन के शपथ ग्रहण शामिल होंगे, इसलिए वो ओवैसी के साथ मंच साझा नहीं करेंगे.

आपको बता दें कि मांझी ने बिहार में मुस्लिम-दलित समीकरण बनाने को लेकर ओवैसी से हाथ मिलाने का प्रोग्राम  सेट किया था. लेकिन समीकरण बनाने से पहले हीं  वे एक बार फिर से राजनीतिक दबाव को देखते हुए अपने फैसले से पीछे हट गए हैं.

बताया जा रहा है कि जीतन राम मांझी ने यू हीं अपने फैसले से नहीं पलटे हैं बल्कि इसके पीछे लालू प्रसाद और तेजस्वी यादव का दबाव काम किया है. जानकारों की माने तो राजद MY (मुस्लिम-यादव) के अलावा किसी और समीकरण को बिहार में एंट्री नहीं होने देना चाहता है. ऐसे में मांझी के ओवैसी से हाथ मिलाने की खबरों के बीच मांझी को इस बात का अहसास करवाया गया जिसके बाद मांझी अपने फैसले से पलट गए और 29 को हेमंत सोरेन के शपथ ग्रहण समारोह में जाने का प्लान बना लिया.

 

Show More

Related Articles

Close