News4Bharatराजनीतिराज्य

नगर निगम ने पूर्व मुख्यमंत्री भागवत झा आजाद के नाम आवंटित प्लॉट को , रद्द करने का दिया गया निर्देश

आपको बता दें पटना नगर निगम ने श्री कृष्णा पुरी में आवंटित चार भूखंडों का आवंटन रद्द करने का निर्देश जारी किया है। बताया जा रहा है कि इसके पीछे जो सबसे बड़ा कारण है वह यह है कि आवासीय उपयोग के लिए आवंटित इन भूखंडों का उपयोग व्यवसायिक लाभ के लिए किया जा रहा था। वहीं अब नगर आयुक्त के द्वारा सभी प्लॉटों के आवंटियों को 1 सप्ताह के अंदर भूखंड को पाटलिपुत्र प्रमंडल के कार्यपालक अभियंता को सौंपने का निर्देश दिया गया है। बता दें पटना नगर निगम आयुक्त के द्वारा प्रेषित पत्र में निर्देशित किया गया है कि अगर आवंटित नियम की अवज्ञा करेंगे तो नगर निगम अपने अस्तर से कार्रवाई करेगा।

वहीं सबसे बड़ी बात यह आ रही है कि इसमें प्लाट भी 23वें पूर्व मुख्यमंत्री स्वर्गीय भागवत झा आजाद के नाम पर आवंटित है। वहीं आपको बता दें इस संबंध में स्वर्गीय भागवत झा आजाद के बेटे पूर्व सांसद कीर्ति झा आजाद ने 20 मई  2019 के  23वीं आवंटित प्लॉट से संबंधित नगर निगम के  पत्र का जवाब देते हुए कहा था कि आवंटित भूखंड पर अवैध रूप से किसी भी तरह का व्यवसायिक भवन नहीं बनाया गया है।

वहीं पूर्व सांसद ने भूखंड से संबंधित बातों का जिक्र करते हुए लिखा है था 31 मई 2019 को क्यों उनकी मां इंदिरा आजाद के मरणोपरांत इस प्लॉट का हस्तांतरण उनके नाम पर हुआ है। बता दें 1966 में ही उनके पिता भागवत झा आजाद को यह प्लॉट आवंटित किया गया था। वहीं 1993 के फोल्डिंग पत्र के अनुसार इस आवंटित प्लॉट पर बने मकान के फर्स्ट फ्लोर को बतौर व्यवसायिक अंकित किया गया था और इसी के आधार पर टैक्स का भुगतान भी किया जा रहा है।

Show More

Related Articles

Close