News4Bharatउत्तर प्रदेशराजनीति

निगम बोध घाट पर 2.30 बजे होगा शीला दीक्षित का अंतिम संस्कार

दिल्ली की लगातार तीन बार मुख्यमंत्री रहीं और राष्ट्रीय राजधानी को आधुनिक शहर का स्वरुप देने वालों में शामिल शीला दीक्षित  का पार्थिव शरीर आज दोपहर 11.30 बजे अंतिम दर्शन के लिए कांग्रेस दफ्तर में रखा गया है। अब निगम बोध घाट पर दोपहर 2.30 बजे उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा। अभी उनका पार्थिव शरीर दिल्ली के निज़ामुद्दीन में उनकी बहन के घर पर रखा है। बता दें शनिवार को दिल का दौरा पड़ने से 81 साल की उम्र में उनका निधन हो गया।

वहीँ उनके पारिवारिक सूत्रों से  पता चला है कि दीक्षित पिछले कुछ समय से अस्वस्थ चल रही थीं और उन्हें शुक्रवार की सुबह सीने में जकड़न की शिकायत के बाद फोर्टिस-एस्कॉर्ट्स अस्पताल में भर्ती कराया गया था जहां शनिवार दोपहर तीन बजकर 55 मिनट पर उन्होंने अंतिम सांस ली।वहीँ शीला दीक्षित के निधन का सिर्फ उनके परिवार, कांग्रेस और समर्थकों को ही दुख नहीं है बल्कि राजनीति में उनका विरोध करने वालों को भी उनके निधन पर गहरा दुख है।

आपको बता दें राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, कांग्रेस नेता राहुल गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल समेत कई अन्य नेताओं ने उनके निधन पर शोक प्रकट किया है।वहीँ आपको बता दें शीला दीक्षित 1998 से 2013 के बीच 15 वर्षो तक दिल्ली की मुख्यमंत्री रहीं। उन्हें राष्ट्रीय राजधानी में पार्टी को फिर से खड़ा करने के मकसद से कुछ महीने पहले ही दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी का अध्यक्ष बनाया गया था।

 

Show More

Related Articles

Close