News4Bharatउत्तर प्रदेशराज्य

उत्तरकाशी में उठा एक बड़ा सवाल आखिर क्यों जन्म ले रहे सिर्फ़ लड़के

उत्तराखंड से एक खबर सामने आई है जहाँ सिर्फ लड़के ही जन्म ले रहे हैं। उत्तराखंड के उत्तरकाशी  में 133 गांव ऐसे हैं जहां पर सिर्फ बेटे जन्म ले रहे हैं। वहीँ लोगो को शक है कि गांवों में कन्या भ्रूण हत्या का सिलसिला अभी भी जारी है और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान का असर नहीं हो रहा है। आपको बता दें जिले के 133 गांवों में पिछले 3 माह में 216 बच्चों ने जन्म लिया है लेकिन हैरान करने वाली बात ये है सभी जगह अस्पतालों में सिर्फ लड़के ही जन्म क्यों ले रहे है। 216 बच्चों में अभी तक एक भी लड़की का जन्म नहीं हुआ है जिसपर हैरानी जताई जा रही है।

वहीँ इसकी सूचना मिलने पर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा है कि इस मामले का पता लगाने के लिए अधिकारियों को निर्देश दिया गया है। त्रिवेंद्र सिंह रावत का मानना है कि ये आंकड़े चौंकाने वाले हैं। उन्होंने कहा कि यह हमारे ‘बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’ अभियान के लिए भी चिंता की बात है।प्रशासन ने इस मामले को संज्ञान में लेकर जांच के आदेश दे दिये हैं तो वहीँ जिलाधिकारी डॉ.आशीष चौहान का कहना है की, “जहां पर बच्चों की, ख़ासतौर पर बालिकाओं का जन्म शून्य है या कम प्रतिशत है, यह बहुत ही चिंताजनक बात है। उन्होंने कहा की हम लगातार मॉनीटर कर रहे हैं। कारणों की जांच की जा रही है कि किस वजह से लिंगानुपात पर असर पड़ रहा है।

वहीँ आपको बता दें डीएम ने सभी 133 गांवों को रेड जोन में शामिल कर लिया है। यहां गिरते लिंगानुपात पर गहरी चिंता जताई जा रही है। उन्होंने आशा कार्यकर्ताओं की ओर से भेजी गई रिपोर्ट नियमित रूप से मदर चाइल्ड ट्रैकिंग सिस्टम पोर्टल पर अपलोड करने के निर्देश दिए।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close