News4Bharatअंतरराष्ट्रीयधर्मनेशनलराजनीति

अयोध्या भूमि विवाद पर टाली गयी आज सुनवाई

सुप्रीम कोर्ट में राम जन्मभूमि बाबरी मश्जिद भूमि मामले पर सोमवार को न्यायमूर्ति एस.ए.बोबडे के मौजूद नही होने के कारण सुनवाई नहीं हुई . सुप्रीम कोर्ट में इस मामले पर प्रति दिन सुनवाई चल रही है और आज सुनवाई का आठवा दिन था. जस्टिस एसए बोबड़े की तबीयत सही नही होने की वजह से अयोध्या भूमि विवाद की सुनवाई पर वह नहीं पहुंचे जिसकी वजह से सुनवाई को टालनी पड़ी. सुनवाई सुरु होने के कुछ मिनट पहले ही अदालत के कर्मचारियों ने बताया की जस्टिस एस.ए.बोबडे आज मौजूद नही हैं.

पिछली सुनवाई पर ‘रामलला विराजमान’ के वकील सीएस वैद्यनाथन  ने अपनी दलीलें सुनाई थीं। वही एक नया विवाद और आन खड़ा हुआ है. वही खुद को राम वंशज कहने वाले एक के बाद एक सामने आए जा रहे हैं उन्‍होंने खुदाई के दौरान मिले अवशेषों पर आधारित रिपोर्ट पेश की थी और दावा किया कि वहां बाल रूप में भगवान राम की मूर्ति विराजमान थी। वकील सीएस वैद्यनाथन ने सुप्रीम कोर्ट में कहा कि विवादित भूमि पर देवताओं की अनेक मुर्तिया पायी गयी हैं. वही उन्‍होंने विवादित स्थल का निरीक्षण करने के लिए अदालत द्वारा नियुक्त कमिश्नर की रिपोर्ट के अंश पड़े और कहा कि 16 अप्रैल, 1950 को विवादित भूमि का जांच किया गया था. कमिश्‍नर ने वहां भगवान शिव की आकृति वाले स्तंभों की मौजूदगी का जिक्र रिपोर्ट में किया है। उन्‍होंने विदेशी यात्रियों की किताबों का जिक्र किया और कहा था कि अयोध्या में एक किला या महल था जहां, हिंदुओं का विश्वास है कि भगवान राम का जन्म यहीं हुआ था।

Show More

Related Articles

Close